Indian History | Economics in hindi

Indian History

भारत का इतिहास कई हजार साल पुराना माना जाता है । प्राचीन भारत के इतिहास में वैदिक सभ्यता सबसे प्रारंभिक सभ्यता है जिसका संबंध आर्यों के आगमन से है । इसका नामकरण आर्यों के प्रारम्भिक साहित्य वेदों के नाम पर किया गया है । आर्यों की भाषा संस्कृत थी और धर्म वैदिक धर्म सनातन धर्म के नाम से प्रसिद्ध था। बाद में विदेशी आक्रांताओं द्वारा इस धर्म का नाम हिन्दू पड़ा । सिन्धु घाटी सभ्यता जिसका आरंभ काल लगभग ईसापूर्व से माना जाता है प्राचीन मिस्र और सुमेर सभ्यता के साथ विश्व की प्राचीनतम सभ्यता में से एक हैं। इस सभ्यता की लिपि अब तक सफलता पूर्वक पढ़ी नहीं जा सकी है। सिंधु घाटी सभ्यता वर्तमान पाकिस्तान और उससे सटे भारतीय प्रदेशों में फैली थी ।पुरातत्त्व प्रमाणों के आधार पर ईसापूर्व के आसपास इस सभ्यता का अक्स्मात पतन हो गया मेहरगढ़ पुरातात्विक दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थान है जहाँ नवपाषाण युग ईसा पूर्व से ईसा पूर्व के बहुत से अवशेष मिले हैं । 19वी शताब्दी के पाश्चात्य विद्वानों के प्रचलित दृष्टिकोणों के अनुसार आर्यों का एक वर्ग भारतीय उप महाद्वीप की सीमाओं पर ईसा पूर्व के आसपास पहुंचा और पहले पंजाब में बस गया और यहीं ऋग्वेद की ऋचाओं की रचना की गई। आर्यों द्वारा उत्तर तथा मध्य भारत में एक विकसित सभ्यता का निर्माण किया गया जिसे वैदिक सभ्यता भी कहते हैं।

    • सिंधु घाटी लोगो का सम्बन्ध सुमेरिया से था।
    • आरंभिक वैदिक साहित्य में सर्वाधिक वर्णित नदी सिंधु है। 
    • उपनिषद दर्शन पर पुस्तके है।
    • गौतम बुद्ध ने अपनी मृत्यु के पहले बौद्ध संघ के नेतृत्व के लिए महाकश्यप को नामित किया था।
    • महावीर का ।जन्म जनात्रिका नाम के क्षत्रीय गोत्र में हुआ था।
    • जैन धर्म में पूर्ण ज्ञान का अर्थ कैवल्य है
    • सिकंदर के हमले के समय उत्तर भारत पर नन्द वंश का शासन था।
    • झेलम नदी के किनारे प्रसिद्द हाइडेस्पीज का युद्ध पोरस एवं सिकंदर के मध्य हुआ था।
    • मालवा ,गुजरात एवं महाराष्ट्र को पहली बार चंद्र गुप्त मौर्य ने जीता था।
    • कौटिल्य के अर्थशास्त्र की तुलना मैक्यावेली के द प्रिंस से की जाती है।
    • मुरुगन देवता की उपासना तमिलों ने सबसे पहले शुरू की थी।
    • भारतीयों के लिए महान सिल्क मार्ग कनिष्क ने आरम्भ कराया।
    • उज्जैन का प्रचीन काल में नाम अवंतिका था।
  •          भारत में प्रथम स्वर्ण मुद्राय यूनानियों ने चलाया।

Indian Economy

भारत की अर्थव्यवस्था विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। 1991 से भारत में बहुत तेज आर्थिक प्रगति हुई है जब से उदारीकरण और आर्थिक सुधार की नीति लागू की गयी है और भारत विश्व की एक आर्थिक महाशक्ति के रूप में उभरकर आया है। सुधारों से पूर्व मुख्य रूप से भारतीय उद्योगों और व्यापार पर सरकारी नियंत्रण का बोलबाला था और सुधार लागू करने से पूर्व इसका जोरदार विरोध भी हुआ परंतु आर्थिक सुधारों के अच्छे परिणाम सामने आने से विरोध काफी हद तक कम हुआ है। हलाकि मूलभूत ढाँचे में तेज प्रगति न होने से एक बड़ा तबका अब भी नाखुश है और एक बड़ा हिस्सा इन सुधारों से अभी भी लाभान्वित नहीं हुये हैं। क्षेत्रफल की दृष्टि से विश्व में सातवें स्थान पर है जनसंख्या में इसका दूसरा स्थान है और केवल 2.4 % क्षेत्रफल के साथ भारत विश्व की जनसंख्या के 17 % भाग को शरण प्रदान करता है 2017 में भारतीय अर्थव्यवस्था मानक मूल्यों(सांकेतिक) के आधार पर विश्व की पांचवी  सबसे बड़ी  अर्थव्यवस्था है। अप्रैल 2014 में जारी रिपोर्ट में वर्ष 2011 के विश्लेषण में विश्व बैंक ने क्रयशक्ति समानता (परचेज़िंग पावर पैरिटी) के आधार पर भारत को विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था घोषित किया। बैंक के इंटरनैशनल कंपेरिजन प्रोग्राम (आईसीपी) के 2011 राउंड में अमेरिका और चीन के बाद भारत को स्थान दिया गया है। 2005 में यह 10वें स्थान पर थी।2003 – 2004 में भारत विश्व में 12वीं सबसे बडी अर्थव्यवस्था थी। संयुक्त राष्ट्र सांख्यिकी प्रभाग (यूएनएसडी) के राष्ट्रीय लेखों के प्रमुख समाहार डाटाबेस दिसम्बर 2013 के आधार पर की गई देशों की रैंकिंग के अनुसार वर्तमान मूल्यों पर सकल घरेलू उत्पाद के अनुसार भारत की रैंकिंग 10 और प्रति व्यक्ति सकल आय के अनुसार भारत विश्व में 161वें स्थान पर है। 

    •  भारतीय अर्थव्यवस्था कृषि पर आधारित है। 
    • आपरेशन फ्लड से सम्बंधित राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड की स्थापना 1970 में किया गया था। 
    • बादामी क्रांति का सम्बन्ध मसालों के उत्पादन एवं निर्यात वृद्धि से है 
    • सुनहरी क्रांति का सम्बन्ध समग्र बागवानी विकास एवं शहद उत्पादन से है। 
    • गरीबी हटाओ के नारे के अंतर्गत वर्ष 1975 में बीस सूत्री कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया। 
    • भगवती समिति का सम्बन्ध बेरोजगारी से है। 
    • सेबी ( SEBI) को एस.ऐ. दबे  की सिफारिश के आधार पर 30 जनवरी ,1992 को वैद्यानिक दर्जा प्रदान किया गया। 
    • भारतीय ओद्योगिक विकास बैंक की स्थापना जुलाई 1964 में की गई थी। 
    • भारत की राष्ट्रीय आय की गणना केंद्रीय सांख्यकीय संगठन ( CSO ) करता है। 
    • CSO की स्थापना 1951 में हुई थी। 
    • एन्नौर ( नया नाम – कामराज ) बंदरगाह देश का पहला निगमित बंदरगाह है। 
    • विशाखापट्नम देश का सबसे गहरा बंदरगाह है। 
  • भारतीय जहाजरानी निगम लिमिटेड की स्थापना 2  अक्टूबर 1961 को हुई थी।  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *