पिता पुत्र ने की मिसाल कायम : मृत पक्षियों का सेम्पल भोपाल लैब पहुँचाने 350 किमी किया बाईक से सफर

श्री तिवारी का जज्बा देश-प्रदेश के लिए अनुकरणीय मिसाल : पशुपालन मंत्री श्री पटेल

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और पशुपालन मंत्री श्री प्रेमसिंह पटेल ने निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर से मृत पक्षियों के सेम्पल पुत्र के साथ मोटरसाइकल पर भोपाल स्थित राज्य पशुरोग अन्वेषण प्रयोगशाला पहुँचाने वाले सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्राधिकारी श्री आर.पी. तिवारी की प्रशंसा की है। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि बिना किसी सुविधा का इंतजार किये जिस तरह श्री तिवारी ने bird flu महामारी के नियंत्रण के लिये अविलम्ब भोपाल लैब को सेम्पल पहुँचाये हैं, यह प्रदेश ही नहीं देश के लिए भी अनुकरणीय मिसाल बन गई है।

बस छूटी, ट्रेन में रिजर्वेशन नहीं मिला

उल्लेखनीय है कि बीते शुक्रवार को निवाड़ी जिले के सोरका गाँव में दो दर्जन से ज्यादा चिड़ियाँ मृत पाईं गई थीं। पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों ने मौके पर पहुँच कर सेम्पल एकत्र किये। कार्यवाही पूरी होने के बाद सेम्पल जाँच के लिय भोपाल भेजने की जिम्मेदारी पृथ्वीपुर के सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्राधिकारी श्री आर.पी. तिवारी को दी गई। श्री तिवारी ने बस का टिकिट बुक कराया परंतु जब तक वे बस स्टेण्ड पहुँचे बस निकल चुकी थी। उन्होंने इसके बाद झाँसी से रेल टिकिट रिजर्वेशन का प्रयास किया लेकिन टिकिट नहीं मिला। उन्होंने शनिवार की सुबह बेटे से बाइक चलाकर भोपाल चलने को कहा। कड़ाके की ठंड और बारिश के कारण पिता-पुत्र को कई स्थानों पर रूकना पडा। श्री तिवारी आज ने सुबह ही भोपाल में सेम्पल जमा करा दिया।

अब तक 18 जिलों में Bird flu की पुष्टि

प्रदेश में अब तक 18 जिलों इंदौर, मंदसौर, आगर, नीमच, देवास, उज्जैन, खंडवा, खरगौन, गुना, शिवपुरी, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, भोपाल, होशंगाबाद, अशोकनगर, दतिया और बड़वानी में कौवों और जंगली पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। प्रदेश के विभिन्न जिलों से 328 सेम्पल राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाला (एनआईएचएसएडी) जाँच हेतु भेजे जा चुके हैं। अलीराजपुर जिले से भेजे गये नमूनों में बर्ड फ्लू वायरस नहीं पाया गया है। सभी जिलों में रोग नियंत्रण की कार्यवाही राज्य और केन्द्र शासन द्वारा जारी एडवाइजरी के अनुसार की जा रही है

यह भी देखे : 1,00,294.26 करोड़ के MSP मूल्य के साथ 70.35 लाख धान के किसान लाभान्वित

खबर सीधे आपके Whatsapp (वाट्सऐप) में अभी ज्वाइन करे ……click here

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

Stay Connected

345FansLike
39FollowersFollow