current news / अच्छी खबर जो करे दिमाग को develop /2018 all current affairs

नमस्कार दोस्तों ……… आज में आप लोगो के लिए कुछ अच्छी खबर लेके आया हु , क्योकि हमारे देश के मीडिया को पता नई  क्या हो गया है ,जब भी टीवी  को चालू करो और न्यूज़ चैनल लगाओ तो , सिर्फ नकारात्मक ( negative ) news ही मीडिया दिखाता है , इससे देश में negativity  नकारात्मक   सोच ज्यादा ही फेल रही है  हम दुसरे देशो की अपेछा बहुत आगे बढ़ गए है और निरंतर बढ़ते ही जा रहे है , हमें सिर्फ अपनी सोच को बदलना है , देश अपने आप बदल जायगा। .. चलिए जानते है कुछ अच्छी खबर के बारे में। … 
  • भारत दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्ता है 
  • अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोस ( IMF ) की विश्व आर्थिक आउटलुक (WEO) रिपोर्ट अप्रैल  2018  के अनुसार , भारत  अब 2.6 अरब डॉलर (जीडीपी के अनुसार ) के साथ दुनिया की छठि सबसे बड़ी अर्थव्यवस्ता वाला देश बन गया है , जो अब फ़्रांस को विस्थापित कर रहा है।  शीर्ष  पांच अर्थव्यवस्थाय संयुक्त राज्य अमेरिका , चीन , जापान , जर्मनी और यूनाइटेड किंगडम है।  
  • विश्व  आर्थिक आउटलुक रिपोर्ट 2018 > 2018 में 7.4 %  और 2019 में 7.8% की वृद्धि दर के साथ  भारतीय अर्थव्यवस्ता के बढ़ने  की उम्मीद है , जिससे दुनिया  में यह सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बन जायगा।  भारत ने हाल के दिनों में संरचनात्मक सुधार किये है। 
  • अंतर्राष्ट्रीय  मुद्रा कोस  > अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोस  एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है , जो अपने सदस्य देशो की  वैश्विक आर्थिक स्थिति पर नज़र रखता  है।  इसका मुख्यालय वाशिंगटन डी सी में है।  अंतरास्ट्रीय मुद्रा कोस सदस्य देशो को आर्थिक और तकनीकी सहायता प्रदान करता है।  अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोस विनिमय दरों  को स्थिर रखने के साथ साथ  विकास को सुगम करने में सहायता करता है। 
  •  भारत तीसरा सबसे बड़ा बिजली उत्पादक बना > भारत का बिजली उत्पादन 7 वर्षो में बढ़कर 2017  में 34 % हो गया है , और अपना देश अब रूस और जापान से अधिक ऊर्जा का उत्पादन करता है , जिनके पास क्रमशा  27 % और 8.77 % अधिक बिजली उत्पादन क्षमता है।   भारत ने 1,160.10 बिलियन यूनिट का उत्पादन किया वित्तीय  वर्ष  में एक महीने के लिए 10  मिलियन घरो के लिए पर्याप्त है।  वाणिज्य मंत्रालय द्वारा स्थापित ट्रस्ट ( IBEF) की एक फरबरी 2018  की रिपोर्ट के मुताविक  ,अप्रेल 2017  से जनवरी 2018  के बीच बिजली उत्पादन 1,003.525 bu रहा।  भारत ने 334.4 गीगावाट  की बिजली क्षमता स्थापित की है , जिससे यह यूरोपीय संघ चीन , अमेरिका और जापान के बाद दुनिया में पांचवी सबसे बड़ी स्थापित  ऊर्जा क्षमता है 
  • भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक और चौथा सबसे बड़ा उपभोक्ता है , जहा स्थापित बिजली क्षमता जनवरी 2018  तक 334.4 गीगावाट तक पहुंच गई।  देश में दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी स्थापित क्षमता भी है। 
  • सरकार का 13 वी पंचवर्षीय योजना (2017 -22 ) के अंतर्गत लगभग 100 गीगावाट की क्षमता में वृद्धि का लक्ष  है। 
  • बिजली खंड और नवीकरणीय   ऊर्जा में स्वतः रुट के अंतर्गत 100  % एफडीआई की अनुमति है। 
  • सूरत  : पहला भारतीय जिला जिसमे 100 % सौर  संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ( पीएचसी ) है। 
  • गुजरात में सूरत देश का पहला  ऐसा जिला बन गया है जिसमे 100 % सौर  ऊर्जा द्वारा संचालित प्राथमिक केंद्र है।  जिले में सभी 52  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अब सौर  ऊर्जा द्वारा संचालित है। सूरत जिले में सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के सौरऊर्जाकृत करने से बिजली बिल 40 % काम हो जायगा और ग्लोबल वार्मिंग से लड़ने में भी सहायता मिलेगी।  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अतिरक्त , जिले में 572  ग्राम पंचायत है जिनमे से 150  सौर  ऊर्जा से संचालित ग्राम पंचायत है और जल्द ही अन्य 422  पंचायतो को भी सोर ऊर्जा संचालित किया जायगा ग्राम पंचायत को सौर  ऊर्जा से बनाने की कुल लागत का 75 % राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाता है और जिला पंचायतो द्वारा 25 % शेष है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *