भारतीय संविधान के प्रमुख स्त्रोत /भारतीय संविधान के अनेक देशी व विदेशी स्त्रोत

भारतीय संविधान के प्रमुख स्त्रोत

भारतीय संविधान के अनेक देशी व विदेशी स्त्रोत है। भारतीय संविधान का निर्माण 2 वर्ष 11महीने और 18 दिन में बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के द्वारा किया गया और 26 नवम्बर 1949 को यह महामहिम राष्ट्रपति जी (श्री राजेंद्र प्रसाद जी ) को सोपा गया,  भारतीय संविधान पर सबसे अधिक प्रभाव भारतीय शासन अधिनियम 1935 का है। भारतीय संविधान विश्व में सबसे बड़ा लिखित संविधान है। भारतीय संविधान के 395 अनुच्छेदो में से लगभग 250 अनुच्छेद ऐसे है जो 1935 के अधिनियम से या तो शब्दशः ले लिया गया है या फिर उनमे बहुत थोड़ा परिवर्तन किया गया है इसके अलावा भारत के संविधान के निर्माण मे 10  देशो के संविधान की अहम् भूमिका है। क्योकि इन्ही 10 देशो के प्रमुख तत्वों को लेकर भारत का संविधान बनाया गया है। तो आइये जानते है वह देश कौन कौन से है , लेकिन उससे पहले हमेशा की तरह आपसे कुछ जान लेते है ?

क्या आप जानते है ?

  1. संविधान लागू होने के बाद सर्वप्रथम त्रिशंकु सरकार का गठन कब हुआ था ?
  2. किसने अपने कार्य काल के दौरान सर्वाधिक अध्यादेश जारी किय थे ?
  3. संविधान के किस अनुछेद के अनुसार वित्त आयोग का गठन किया गया ?
  4. विश्व के किसी भी देश का सर्वाधिक उम्र में प्रधानमंत्री बनने वाले कौन थे ?
  5. संसद में शून्य काल संसद में कितने बजे के बाद शुरू होता है ?
  6. एक वर्ष में कम से कम कितने बार संसद की बैठक होना चाहिए ?
  7. प्राण  एवं दैहिक स्वतंत्रता किस अनुछेद में है ?
  8. संविधान की कुंजी किसे कहा जाता है ?
  9.  भारतीय संसद के सयुक्त सत्र की अध्य्क्षता कौन करता है ?
  10. भारतीय सिविल सेवा में चुने गए पहले भारतीय कौन थे ?

भारतीय संविधान के प्रमुख स्त्रोत

अमेरिका संविधान ( 1789 )

  • न्यायिक पुनरावलोकन  
  • मौलिक अधिकार 
  • राष्ट्रपति पर महाभियोग प्रक्रिया 
  • उच्चतम न्यायालय , संविधान की सर्वोचता 
  • स्वतंत्र न्याय पालिका 

कनाडा का संविधान (1946 )

  • संघात्मक व्यवस्था , अवशिष्ट शक्तिया 

आयरलैंड का संविधान (1937 )

  • राज्य के नीति निर्देशक संविधान 
  • राष्ट्रपति के निर्वाचन की रीति 

ब्रिटिश का संविधान 

  • संसदीय शासन व्यवस्था 
  • विधिनिर्माण प्रक्रिया 
  • एकल नागरिकता 
  • राष्ट्रपति की संविधानिक स्थिति 

पश्चिमी जर्मनी का संविधान (1933 )

  • आपातकाल उपबंध 

दक्षिण अफ्रीका का संविधान 

  • संविधान संशोधन की पद्धति 

सोवियत संघ का संविधान (1936 )

  • मौलिक कर्तव्य 

फ्रांसीसी संविधान (1946 )

  • गणतंत्रात्मक शासन व्यवस्था 

ऑस्ट्रेलिया का संविधान (1901 )

  • प्रस्तावना ,समवर्ती सूची ,शक्ति विभाजन 

जापान का संविधान 

  • अनुच्छेद का प्रावधान

 उपरोक्त प्रश्नो का उत्तर

  1. संविधान लागू होने के बाद सर्वप्रथम त्रिशंकु सरकार का गठन 1989  में हुआ था।
  2. फखरुद्दीन अली अहमद ने अपने कार्य काल के दौरान सर्वाधिक अध्यादेश जारी किय थे।
  3. संविधान के  अनुछेद-280  के अनुसार वित्त आयोग का गठन किया गया। 
  4. विश्व के किसी भी देश का सर्वाधिक उम्र में प्रधानमंत्री बनने वाले मोरारजी देसाई थे।
  5. संसद में शून्य काल संसद में दोपहर 12 बजे के बाद शुरू होता है।
  6. एक वर्ष में कम से कम 2 बार संसद की बैठक होना चाहिए।
  7. प्राण  एवं दैहिक स्वतंत्रता  अनुछेद -21 में है।
  8. संविधान की कुंजी प्रस्तावना को कहा जाता है।
  9.  भारतीय संसद के सयुक्त सत्र की अध्य्क्षता लोकसभा का अध्यक्ष करता है।
  10. भारतीय सिविल सेवा में चुने गए पहले भारतीय सत्येंद्र नाथ टैगोर थे। 

आपको यह जानकारी कैसी लगी कृपया जरूर बताय और इस पोस्ट को शेयर करे  Good luck……..srdnews

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *